Facebook

New heart touching , Love shayari in Hindi - नया दिल छूने वाला, प्यार भरी शायरी हिंदी में

New heart touching shayari in Hindi

Hello friend's सदा की तरह आप भी दो लाइन वाला हिंदी शायरी लेकर आया हूं विश्वास है आप लोग को भी अच्छा लगेगा New heart touching shayari in Hindi पर आदमी लोगों का घाट के घटना पर आधारित लव शायरी,शेर शायरी, गम शायरी, मोहब्बतें शायरी इस प्रकार का मिश्रण शायरी से भरा हुआ है।

 हम आप लोग का दिल जीतने के लिए दिल से बहुत प्रयास कर रहा है आशा है आज आप लोग को अच्छा नहीं लगेगा तो फिर दोबारा से हमारा वेबसाइट पर जरूर विजिट करना क्योंकि यह हमारा पहला प्रयास है।

 हम आप लोग का पसंद वाला शायरी गजल कविता लेकर आने का वचन देता है आप लोग को अच्छा लगे तो भी कमेंट करना नहीं लागे तो भी कमेंट करना क्योंकि आप लोग का कॉमेंट ही हमारा लिए अच्छा बनाने के लिए हौसला मिलेगा।
हमारा शायरी इस प्रकार है तो कृपया New heart touching shayari in Hindi पूरा पढ़कर हमको आपका मत दे देना हम आपका मत का इंतजार करेंगे।

https://www.nepalishayari.com/2020/04/romantic-love-friendship-shayari-hindi.html
Love shayari photo



Hindi Shayari collection


तुझे मोहब्बत करना नहीं आता 
और मुझे मोहब्बत के सिवा कुछ नहीं आता
जिंदगी जीने के दो ही तरीके हैं साकी 
एक तुझे नहीं आता एक मुझे नहीं आता!

tujhe mohabbat karana nahin aata
aur mujhe mohabbat ke siva kuchh nahin aata
jindagee jeene ke do hee tareeke hain saakee
ek tujhe nahin aata ek mujhe nahin aata!

तेरी नज़रों को फुरसत ना मिली......
वरना मर्ज़ इतना लाइलाज़ ना था......
हमने तो वहाँ भी मुहब्बत बाँट दी......
जहाँ मुहब्बतों का रिवाज़ ना था....

teree nazaron ko phurasat na milee......
varana marz itana lailaaz na tha......
hamane to vahaan bhee muhabbat baant dee......
jahaan muhabbaton ka rivaaz na tha....

इतनी बेचैनी से मुझको किसकी तलाश है 
वो कौन है जो मेरी आंखों की प्यास है ।
जिंदगी के इस मोड़ पे तुम आके यूं मिले 
जैसे कि कोई मंजिल मेरे इतने पास है ।

itanee bechainee se mujhako kisakee talaash hai
vo kaun hai jo meree aankhon kee pyaas hai
jindagee ke is mod pe tum aake yoon mile
jaise ki koee manjil mere itane paas hai

पल दो पल का साथ रहा,
पर महक अभी तक बाक़ी है।
ना बात हुई, ना शिकवा कोई..
पर चहक अभी तक बाक़ी है।।

pal do pal ka saath raha
par mahak abhee tak baaqee hai.
na baat huee, na shikava koee..
par chahak abhee tak baaqee hai..

रूठ जाने के बाद
गलती चाहे जिसकी भी हो,
बात शुरू वही करता है जो
बेपनाह मोहब्बत करता है।

rooth jaane ke baad
galatee chaahe jisakee bhee ho,
baat shuroo vahee karata hai jo
bepanaah mohabbat karata hai.

सांसे खर्च हो रही है
बीती उम्र का हिसाब नहीं, 
फिर भी जीए जा रहें हैं
तुझे, जिंदगी तेरा जवाब नहीं!

saanse kharch ho rahee hai
beetee umr ka hisaab nahin,
phir bhee jeee ja rahen hain
tujhe, jindagee tera javaab nahin!



"खुद कष्ट झेलकर भी किसी के चेहरे पर,
मुस्कान लाने का नाम है प्यार ।
दर्द सह कर  भी चाहने वाले की,
परवाह करने का नाम है प्यार ।।

"khud kasht jhelakar bhee kisee ke chehare par,
muskaan laane ka naam hai pyaar .
dard sah kar  bhee chaahane vaale kee
paravaah karane ka naam hai pyaar ..

लबों से जो बात निकल न पाय,
उस एहसास को भी समझ जाना है प्यार।
अधिकार हो न सही,
फिर भी विशेषाधिकार समझना है प्यार।।

labon se jo baat nikal na paay,
us ehasaas ko bhee samajh jaana hai pyaar.
adhikaar ho na sahee,
phir bhee visheshaadhikaar samajhana hai pyaar..

दूर रहकर भी,
दिल का आलम जान लेना है प्यार।
बिना जिक्र के ही ,
महबूब की फिक्र करना है प्यार।।

door rahakar bhee,
dil ka aalam jaan lena hai pyaar.
bina jikr ke hee ,
mahaboob kee phikr karana hai pyaar..

मिलने की उम्मीद तक न हो,
फिर भी दिल को बेक़रार किये रहना है प्यार।
चंद पलों की मुलाकात के सहारे ही,
चाहत के लम्हे सजाना है प्यार।।"

milane kee ummeed tak na ho,
phir bhee dil ko beqaraar kiye rahana hai pyaar.
chand palon kee mulaakaat ke sahaare hee,
chaahat ke lamhe sajaana hai pyaar.."

आज आयी जो बारिश...
तो याद आया वो जमाना,
तेरा छज्जे पे रहना...
और मेरा सड़कों पर नहाना।

aaj aayee jo baarish...
to yaad aaya vo jamaana,
tera chhajje pe rahana...
aur mera sadakon par nahaana.

पढ ना ले मेरा दर्द कोई
अल्फाज़ बदल लेता हूँ मै
अगर आँख मे नमी आये 
तो आवाज़ बदल लेता हूँ मै

padh na le mera dard koee
alphaaz badal leta hoon mai
agar aankh me namee aaye
to aavaaz badal leta hoon mai

हद-ए-शहर से निकली तो गाँव गाँव चली 
कुछ यादें मेरे संग पांव पांव चली । 
सफ़र जो धूप का किया तो तजुर्बा हुआ 
वो जिंदगी ही क्या जो छाँव - छाँव चली ।

had-e-shahar se nikalee to gaanv gaanv chalee
kuchh yaaden mere sang paanv paanv chalee .
safar jo dhoop ka kiya to tajurba hua
vo jindagee hee kya jo chhaanv - chhaanv chalee .

स्कूटी पर बैठी एक लड़की सयानी
लहराती सी जुल्फें बिलखाते खाते हॉट
लग रही थी परियों की रानी 
कर रही थी कायल उसकी जवानी।

skootee par baithee ek ladakee sayaanee
laharaatee see julphen bilakhaate khaate hot
lag rahee thee pariyon kee raanee
kar rahee thee kaayal usakee javaanee.

फ़कत रेशम सी गाठें थी, 
जरा सा खोल लेते तुम....
अगर दिल मे शिकायत थी 
ज़बा से बोल देते तुम....

fakat resham see gaathen thee,
jara sa khol lete tum....
agar dil me shikaayat thee
zaba se bol dete tum....

एक शम्मा अंधेरे में जलाए रखना,
सुबह होने को है मौहौल बनाए रखना,
कौन जाने वो किस गली से गुज़रे,
हर गली को फूलो से सजाए रखना!

ek shamma andhere mein jalae rakhana,
subah hone ko hai mauhaul banae rakhana,
kaun jaane vo kis galee se guzare,
har galee ko phoolo se sajae rakhana!

ना जगाओ नींद से उस आशिक़ को,
आज कई दिनों बाद सोया लगता है!
कुछ आँखों में उसकी नशा भी है,
मय में खुद को डुबोया लगता है!

na jagao neend se us aashiq ko,
aaj kaee dinon baad soya lagata hai!
kuchh aankhon mein usakee nasha bhee hai,
may mein khud ko duboya lagata hai!

देखो गीला है तकिया भी उसका,
आज तो जी भर के रोया लगता है!
शायद कुछ दर्द कम हुआ है उसका,
आज ही जख्मों को धोया लगता है!
आज बेफिक्र है जैसे कुछ बाकी नही,
इश्क़ में देखो सब कुछ खोया लगता है।

dekho geela hai takiya bhee usaka,
aaj to jee bhar ke roya lagata hai!
shaayad kuchh dard kam hua hai usaka,
aaj hee jakhmon ko dhoya lagata hai!
aaj bephikr hai jaise kuchh baakee nahee
ishq mein dekho sab kuchh khoya lagata hai.

आज फिर घर से निकला हूं  (Aaj phir ghar se nikala hoon )


इक तेरी तलाश में बस तेरी ही कमी है। 
इन आंखों की प्यास में, 
तुझे जाना ही था तो आयी क्यों
सिंह काट लेगा जिंदगानी तेरी आस में।

ik teree talaash mein bas teree hee kamee hai.
in aankhon kee pyaas mein,
tujhe jaana hee tha to aayee kyon
sinh kaat lega jindagaanee teree aas mein.

तन्हा रहना तो सीख लिया हमने,
लेकिन खुश कभी ना रह पाएंगे,
तेरी दूरी तो फिर भी सह लेता ये दिल,
लेकिन तेरी मोहब्बत के बिना ना जी पाएंगे

tanha rahana to seekh liya hamane,
lekin khush kabhee na rah paenge,
teree dooree to phir bhee sah leta ye dil,
lekin teree mohabbat ke bina na jee paenge.

तेरे गम को अपनी रूह में उतार लूँ 
ज़िन्दगी तेरी चाहत में सवार लूँ
मुलाकात हो तुझ से कुछ इस तरह 
तमाम उम्र बस एक मुलाकात में गुजार लूँ

tere gam ko apanee rooh mein utaar loon
zindagee teree chaahat mein savaar loon
mulaakaat ho tujh se kuchh is tarah
tamaam umr bas ek mulaakaat mein gujaar loon

दिलो में खलिश है न पालो इसे
ये नफरत बुरी है निकालो इसे,
न मेरा न तेरा न इसका न उसका 
ये सबका वतन है बचा लो इसे!

dilo mein khalish hai na paalo ise
ye napharat buree hai nikaalo ise,
na mera na tera na isaka na usaka
ye sabaka vatan hai bacha lo ise!



तुम्हारी सूरत अब ज़हन में उभरती नहीं 
मगर फिज़ाओं में तुम मौजूद हो।
तुम्हारा एहसास चश्मे-नूर बनकर रौशन होता है 
मेरे दिल को इसी में राहत है कि तुम हर तरफ मौजूद हो।

tumhaaree soorat ab zahan mein ubharatee nahin
magar phizaon mein tum maujood ho
tumhaara ehasaas chashme-noor banakar raushan hota hai
mere dil ko isee mein raahat hai ki tum har taraph maujood ho.

तू वजह सी है जीने की 
तो हवाओं का रास्ता क्या है !
दर्द तुझसे और इलाज भी है तू
फिर दवाओं का वास्ता क्या है!!

too vajah see hai jeene kee
to havaon ka raasta kya hai !
dard tujhase aur ilaaj bhee hai too
phir davaon ka vaasta kya hai!!

न अब मैं रहा ना बाकी हैं ज़माने मेरा
फिर भी लोग मशहूर हैं फ़साने मेरा,
जीना है तो नए ज़ख्म भी मिल जाएंगे
अब भी बाकी हैं कई पुराने दोस्त मेरा ।"

na ab main raha na baakee hain zamaane mera
phir bhee log mashahoor hain fasaane mera,
jeena hai to nae zakhm bhee mil jaenge
ab bhee baakee hain kaee dost puraane mera ."

बिखरे है अश्क कोई साज नही देता,
खामोश है सब कोई आवाज नही देता..।
कल के वादे सब करते है मगर,
क्यू कोई साथ आज नही देता..।।

bikhare hai ashk koee saaj nahee deta,
khaamosh hai sab koee aavaaj nahee deta...
kal ke vaade sab karate hai magar,
kyoo koee saath aaj nahee deta....

"वो वक्त वो लम्हे अजीब होंगे,
दुनियाँ में हम खुश नशीब होंगे। 
दूर से जब इतना याद करते हैं आपको,
क्या हाल होगा जब आप हमारे करीब होगे।"

"vo vakt vo lamhe ajeeb honge,
duniyaan mein ham khush nasheeb honge.
door se jab itana yaad karate hain aapako,
kya haal hoga jab aap hamaare kareeb hoge."

जो नफरत उसको दिखाई थी 
कुछ यूँ बेकार हो गई। 
जुबान मेरे बस में रहीं, 
और आँखे गद्दार हो गई।

jo napharat usako dikhaee thee
kuchh yoon bekaar ho gaee.
jubaan mere bas mein raheen,
aur aankhe gaddaar ho gaee.

तुम नही जानते मेरे दिल पर क्या गुज़रती है
जब तुम पास से कुछ कहे बिना गुज़र जाते हो। 
हम तुम्हें नज़रों के सामने भी नज़र नहीं आते
और हमें भीड़ में भी तुम्ही तुम नज़र आते हो।

tum nahee jaanate mere dil par kya guzaratee hai
jab tum paas se kuchh kahe bina guzar jaate ho.
ham tumhen nazaron ke saamane bhee nazar nahin aate
aur hamen bheed mein bhee tumhee tum nazar aate ho.

मुझे छोड़कर वो खुश हैं, 
तो शिकायत कैसी? 
अब हम उन्हें खुश भी न देख सके तो,
मुहब्बत कैसी।

mujhe chhodakar vo khush hain,
to shikaayat kaisee?
ab ham unhen khush bhee na dekh sake to,
muhabbat kaisee.

कहा था तुमने कि 
एक भूल थी तुम्हारी मोहब्बत,
तो फिर आंसू क्यों बह गए 
कल तेरे तन्हा देखकर मुझे छत पर।

kaha tha tumane ki
ek bhool thee tumhaaree mohabbat,
to phir aansoo kyon bah gae
kal tere tanha dekhakar mujhe chhat par.


हम आपको इस कदर चाहते हैं,
जिसे देख कर दुनिया वाले जल जाते हैं,
वैसे तो हम हर किसी को उल्लू बनाते है,
लेकिन आप थोड़ा जल्दी बन जाते हैं।

ham aapako is kadar chaahate hain,
jise dekh kar duniya vaale jal jaate hain,
vaise to ham har kisee ko ulloo banaate hai,
lekin aap thoda jaldee ban jaate hain.

ये आसमान इतना क्यों नीला है,
ये पानी इतना क्यों गीला है,
ये फूल इतना क्यों पीला है,
हमे तो लगता है 
आपका स्क्रू शुरू से ही ढीला है।

ye aasamaan itana kyon neela hai,
ye paanee itana kyon geela hai,
ye phool itana kyon peela hai,
hame to lagata hai
aapaka skroo shuroo se hee dheela hai.

कीमत पानी की नहीं, प्यास की होती हैं,
कीमत मौत की नही, साँस की होती हैं,
प्यार तो बहुत करते हैं, इस ज़ालिम दुनिया में, 
कीमत प्यार की नही, विश्वास की होती हैं।

keemat paanee kee nahin, pyaas kee hotee hain,
keemat maut kee nahee, saans kee hotee hain,
pyaar to bahut karate hain, is zaalim duniya mein,
keemat pyaar kee nahee, vishvaas kee hotee hain.


मेरी यादो मे तुम हो, या मुझ मे ही तुम हो,
मेरे खयालो मे तुम हो, या मेरा खयाल ही तुम हो,
दिल  मरा धडक के पूछे, बार बार एक ही बात,
मेरी जान मे तुम हो, या मेरी जान ही तुम हो…!

meree yaado me tum ho, ya mujh me hee tum ho,
mere khayaalo me tum ho, ya mera khayaal hee tum ho,
dil  mara dhadak ke poochhe, baar baar ek hee baat,
meree jaan me tum ho, ya meree jaan hee tum ho…!

कछ लोग खोने को प्यार कहते हैं
तो कुछ पाने को प्यार कहते हैं
पर हकीक़त तो ये है.
हम तो बस निभाने को प्यार कहते हैँ....

kachh log khone ko pyaar kahate hain
to kuchh paane ko pyaar kahate hain
par hakeeqat to ye hai.
ham to bas nibhaane ko pyaar kahate hain....

दुनिया की हर चीज़ 
ठोकर लगने से टूट जाती हैं।
एक कामयाबी ही है,
जो ठोकर खाकर ही मिलती हैं।

duniya kee har cheez
thokar lagane se toot jaatee hain.
ek kaamayaabee hee hai,
jo thokar khaakar hee milatee hain.



उसका हूँ मैं इस एहसास से इनकार करती है
भरी  महफ़िल  में  भी , रुसवा  हर  बार  करती  है। 
यकीं है सारी दुनिया को, खफा है हमसे वो लेकिन
मुझे  मालूम  है  वो  मुझी  से  प्यार  करती  है।

usaka hoon main is ehasaas se inakaar karatee hai
bharee  mahafil  mein  bhee , rusava  har  baar  karatee  hai.
yakeen hai saaree duniya ko, khapha hai hamase vo lekin
mujhe  maaloom  hai  vo  mujhee  se  pyaar  karatee  hai.

पल भर करते है बात,
फिर महिनों की दूरी बनाते है...
ये कैसी दोस्ती है
जो वो तनख्वाह की तरह निभाते है..

pal bhar karate hai baat,
phir mahinon kee dooree banaate hai...
ye kaisee dostee hai
jo vo tanakhvaah kee tarah nibhaate hai..

बेवफा से वफ़ा की उम्मीद मत रखना
लुट जाओगे दरवाज़ा खुला मत रखना। 
अगर जन्नत में जाने की ख़ाहिश है
तो माँ बाप को अपने से जुदा मत रखना।

bevapha se vafa kee ummeed mat rakhana
lut jaoge daravaaza khula mat rakhana.
agar jannat mein jaane kee khaahish hai
to maan baap ko apane se juda mat rakhana.

दिल की हसरत मेरी जुबान पे आने लगी , 
तुमने देखा और ये ज़िन्दगी मुस्कुराने लगी...
इस प्यार की इन्तहा थी या दीवानगी मेरी 
हर सूरत में मुझे सूरत तेरी नज़र आने लगी..

dil kee hasarat meree jubaan pe aane lagee ,
tumane dekha aur ye zindagee muskuraane lagee...
is pyaar kee intaha thee ya deevaanagee meree
har soorat mein mujhe soorat teree nazar aane lagee..

तू रूठा रूठा सा लगता है, 
कोई तरकीब बता मनाने की। 
मैं ज़िन्दगी गिरवी रख दूंगा, 
तू क़ीमत बता मुस्कुराने की।

too rootha rootha sa lagata hai,
koee tarakeeb bata manaane kee.
main zindagee giravee rakh doonga,
too qeemat bata muskuraane kee

सोचा याद न करके थोड़ा तड़पाऊं उनको!
किसी और का नाम लेकर जलाऊं उनको! 
पर जख्म लगेगी उसको तो दुःख मेरेको ही होगा!
अब ये बताओ किस तरह सताऊं उनको!

socha yaad na karake thoda tadapaoon unako!
kisee aur ka naam lekar jalaoon unako!
par jakhm lagegee usako to duhkh mereko hee hoga!
ab ye batao kis tarah sataoon unako!

हसरत है सिर्फ तुम्हें पाने की, 
और कोई ख्वाहिश नहीं इस दीवाने की, 
शिकवा मुझे तुमसे नहीं खुदा से है। 
क्या जरूरत थी, 
तुम्हें इतना खूबसूरत बनाने की।

hasarat hai sirph tumhen paane kee,
aur koee khvaahish nahin is deevaane kee,
shikava mujhe tumase nahin khuda se hai.
kya jaroorat thee,
tumhen itana khoobasoorat banaane kee.

बिन दिल के जज्बात अधूरे, 
बिन धड़कन अहसास अधूरे। 
बिन साँसों के ख्वाब अधूरे, 
बिन तेरे हम कब हैं पूरे।

bin dil ke jajbaat adhoore,
bin dhadakan ahasaas adhoore
bin saanson ke khvaab adhoore,
bin tere ham kab hain poore.

तुझे क्या पता कि मेरे दिल में,
कितना प्यार है तेरे लिए,
जो कर दूँ बयान तो, 
तुझे नींद से नफरत हो जाए।

tujhe kya pata ki mere dil mein,
kitana pyaar hai tere lie,
jo kar doon bayaan to,
tujhe neend se napharat ho jae.

सब्र और सहनशीलता
कोई कमजोरियां नहीं होती। 
ये तो अंदरुनी ताकत है
जो सब में नहीं होती।

sabr aur sahanasheelata
koee kamajoriyaan nahin hotee.
ye to andarunee taakat hai
jo sab mein nahin hotee.

एक दिन मेरी जिंदगी ने सवाल मुझसे पूछा,
तुम मुझसे प्यार करती हो या उससे प्यार करती हो 
मैने कहा तुमने ही तो मुझको उससे मिलवाया था ,
ओर तुम ही गैरों जैसे सवाल करती हो

ek din meree jindagee ne savaal mujhase poochha,
tum mujhase pyaar karatee ho ya usase pyaar karatee ho
maine kaha tumane hee to mujhako usase milavaaya tha ,
or tum hee gairon jaise savaal karatee ho

हर पल एक मंज़र गुज़र जाता हेै !
जब अपना कोई बेगाना बन जाता है !
यू तो शीशे टूटने की,,,
 बहुत आवाज़ आती है !
पर कभी आवाज़ के बिना,
बहुत कुछ टूट जाता हैे !!

har pal ek manzar guzar jaata heai !
jab apana koee begaana ban jaata hai !
yoo to sheeshe tootane kee,,,
bahut aavaaz aatee hai
par kabhee aavaaz ke bina,
bahut kuchh toot jaata haie !!

सर झुकाने की आदत नहीं है,
आँसू बहाने की आदत नहीं है। 
हम खो गए तो पछताओगे बहुत,
क्युकी हमारी लौट के आने की आदत नहीं है।

sar jhukaane kee aadat nahin hai,
aansoo bahaane kee aadat nahin hai.
ham kho gae to pachhataoge bahut,
kyukee hamaaree laut ke aane kee aadat nahin hai.




होले होले कोई याद आया करता है,
कोई मेरी हर साँसों को महकाया करता है। 
उस अजनबी का हर पल शुक्रिया अदा करते हैं,
जो इस नाचीज़ को मोहब्बत सिखाया करता है।

hole hole koee yaad aaya karata hai,
koee meree har saanson ko mahakaaya karata hai.
us ajanabee ka har pal shukriya ada karate hain,
jo is naacheez ko mohabbat sikhaaya karata hai.

ज़िंदगी है नादान, इसलिए चुप हूँ,
दर्द ही दर्द सुबह शाम, इसलिए चुप हूँ। 
कह दूँ ज़माने से दास्तान अपनी,
उसमें आएगा तेरा नाम इसलिए चुप हूँ।

zindagee hai naadaan, isalie chup hoon,
dard hee dard subah shaam, isalie chup hoon.
kah doon zamaane se daastaan apanee,
usamen aaega tera naam isalie chup hoon.

जो कोई सोच भी न सके वो बात है हम,
जो ढल के नई सुबह लाये वो रात है हम। 
अक्सर लोग रिश्ते बना कर छोड़ दिया करते है,
जो जिंदगी भर साथ निभाए वो साथ है हम।

jo koee soch bhee na sake vo baat hai ham,
jo dhal ke naee subah laaye vo raat hai ham.
aksar log rishte bana kar chhod diya karate hai,
jo jindagee bhar saath nibhae vo saath hai ham.

"जिसने हमको चाहा, उसे हम चाह न सके,
जिसको चाहा उसे हम पा न सके। 
यह समझ लो दिल टूटने का खेल है, 
किसी का तोडा और अपना बचा न सके!"

"jisane hamako chaaha, use ham chaah na sake,
jisako chaaha use ham pa na sake.
yah samajh lo dil tootane ka khel hai,
kisee ka toda aur apana bacha na sake!"

जब हमे धोखा मिला प्यार में,
तो जीवन में उदासी छा गई,
सोचा था छोड़ देंगे इस रास्ते को,
पर, मोहल्ले में दूसरी आ गई।

jab hame dhokha mila pyaar mein,
to jeevan mein udaasee chha gaee,
socha tha chhod denge is raaste ko,
par, mohalle mein doosaree aa gaee.

हमारे बिन अधूरे तुम रहोगे, 
कभी चाहा किसी ने खुद तुम कहोगे।
हम ना होंगे तो ये आलम ना होगा, 
मिलेंगे बहुत से पर हम सा कोई पगल ना होगा।

hamaare bin adhoore tum rahoge,
kabhee chaaha kisee ne khud tum kahoge.
ham na honge to ye aalam na hoga,
milenge bahut se par ham sa koee pagal na hoga.

प्यार में मौत से डरता कोन है।
प्यार हो जाता है करता कोन है।
आप जैसे यार पर हम तो क्या सारी दुनियां फिदा है।
लेकिन हमारी तरह आप पर मरता कौन है।

pyaar mein maut se darata kon hai.
pyaar ho jaata hai karata kon hai.
aap jaise yaar par ham to kya saaree duniyaan phida hai.
lekin hamaaree tarah aap par marata kaun hai.


तेरी अदाओं का मेरे पास 
कोई जवाब नहीं है। 
अब मेरी आँखों में
तेरे सिवा कोई ख्वाब नहीं है। 
तुम मत पूछो, मुझे
कितनी मोहब्बत है तुमसे।

teree adaon ka mere paas!
koee javaab nahin hai.
ab meree aankhon mein
tere siva koee khvaab nahin hai.!
tum mat poochho, mujhe
kitanee mohabbat hai tumase.!!

तुझे बसा कर रूह में,
खुद को खुद से जुदा कर दिया। 
सुन मेरे बेरहम सनम,
तुझे इश्क़ में मैंने खुदा कर दिया।

tujhe basa kar rooh mein,
khud ko khud se juda kar diya.
sun mere beraham sanam,
tujhe ishq mein mainne khuda kar diya.

बेवफ़ा कह के बुलाया तो बुरा मान गए 
आईना सामने आया तो बुरा मान गए ।
उनकी हर रात गुज़रती है दिवाली की तरह 
हमने एक दीप जलाया तो बुरा मान गए ।

bevafa kah ke bulaaya to bura maan gae
aaeena saamane aaya to bura maan gae .
unakee har raat guzaratee hai divaalee kee tarah
hamane ek deep jalaaya to bura maan gae.

आसमान में पानी है,
फिर भी जमीन प्यासी है।
भरा है जल से समंदर,
मगर मटका घर का खाली है।

aasamaan mein paanee hai,
phir bhee jameen pyaasee hai.
bhara hai jal se samandar,
magar mataka ghar ka khaalee hai.

जितना मुश्किल 
किसी को पाना होता है
उस से ज्यादा मुश्किल 
किसी को भुलाना होता है।

jitana mushkil
kisee ko paana hota hai
us se jyaada mushkil
kisee ko bhulaana hota hai.

तुम पूछो और मैं ना बताऊ
अभी ऐसे हालात नही। 
बस एक छोटा सा दिल टुटा है,
और कोई बात नही।

tum poochho aur main na bataoo
abhee aise haalaat nahee.
bas ek chhota sa dil tuta hai,
aur koee baat nahee.

जरूरी नहीं कि सज़दे हो हर वक्त,
और उसमें खुदा का नाम आये। 
जिन्दगी तो खुद एक इबादत है,
शर्त ये है कि ये किसी के काम आये।

jarooree nahin ki sazade ho har vakt,
aur usamen khuda ka naam aaye.
jindagee to khud ek ibaadat hai,
shart ye hai ki ye kisee ke kaam aaye.



गम में हसने वालो को रूलाया नही जाता
लहरो का पानी हाथो से हटाया नही जाता। 
होने वाले हो जाते है खुद ही अपने
कह कर किसी को अपना बनाया नही जाता।

gam mein hasane vaalo ko roolaaya nahee jaata
laharo ka paanee haatho se hataaya nahee jaata.
hone vaale ho jaate hai khud hee apane
kah kar kisee ko apana banaaya nahee jaata.

न जाने ऐसी कौन सी बात है
उस जाने पहचाने से अजनबी में। 
मेरे लाख न चाहते हुए भी
मेरी तन्हाई में मेरे मुस्कराने की
वजह बन जाता है वो।

na jaane aisee kaun see baat hai
us jaane pahachaane se ajanabee mein.
mere laakh na chaahate hue bhee
meree tanhaee mein mere muskaraane kee
vajah ban jaata hai vo.

हसकर जीना दस्तूर है जिंदगी का
इक यही किस्सा मशहूर है जिंदगी का। 
बीते हुए पल कभी लौट कर नहीं आते
यही सबसे बढ़ा कसूर है जिंदगी का ।

hasakar jeena dastoor hai jindagee ka
ik yahee kissa mashahoor hai jindagee ka.
beete hue pal kabhee laut kar nahin aate
yahee sabase badha kasoor hai jindagee ka.

कितने चेहरे हैं इस दुनिया में,
मगर हमको एक चेहरा ही नज़र आता है। 
दुनिया को हम क्यों देखें,
उसकी याद में सारा वक़्त गुज़र जाता है।

kitane chehare hain is duniya mein,
magar hamako ek chehara hee nazar aata hai.
duniya ko ham kyon dekhen,
usakee yaad mein saara vaqt guzar jaata hai.

नज़रें मिले तो प्यार हो जाता है ,
पलकें उठे तो इज़हार हो जाता है। 
ना जाने क्या कशिश है चाहत में ,
के कोई अनजान भी हमारी 
ज़िन्दगी का हक़दार हो जाता है।

nazaren mile to pyaar ho jaata hai ,
palaken uthe to izahaar ho jaata hai.
na jaane kya kashish hai chaahat mein ,
ke koee anajaan bhee hamaaree
zindagee ka haqadaar ho jaata hai.

खुद को इतना भी मत बचाया कर, 
बारिशें हो अगर तो भीग जाया कर। 
चाँद लाकर कोई नहीं देगा तुझको, 
तू खुद अपने चेहरे से ही जगमगाया कर।

khud ko itana bhee mat bachaaya kar,
baarishen ho agar to bheeg jaaya kar.
chaand laakar koee nahin dega tujhako,
too khud apane chehare se hee jagamagaaya kar.

जीत के खातिर बस जूनून चाहिए
जिसमे उबाल हो ऐसा खून चाहिए । 
यह आसमान भी आएगा जमीन पर
बस इरादों में जीत की गूंज चाहिए ।।

jeet ke khaatir bas joonoon chaahie
jisame ubaal ho aisa khoon chaahie .
yah aasamaan bhee aaega jameen par
bas iraadon mein jeet kee goonj chaahie ..

हम समझदार भी इतने है
की उनका झूठ पकड़ लेते है।
पर उनके दीवाने भी इतने है 
की फिर भी सच मान लेते है।

ham samajhadaar bhee itane hai
kee unaka jhooth pakad lete hai.
par unake deevaane bhee itane hai
kee phir bhee sach maan lete hai.

Post a comment

0 Comments