Facebook

New love and friendship, Hindi breakup, हिंदी शायरी संग्रह

इस पे ढेर सरे हिंदी शायरी संग्रह  हैं। जैसे  Heart Touching Shayari in Hindi, Hindi breakup Shayari, New shayari in Hindi, friendship shayari, hart touching shayari, Sad Hindi shayari, Breakup Shayari, New love and friendship आदि।  हिंदी शायरी मैं मन की बात को लिखीं जाती हैं बोली जाती हैं। हर इंसान इसको कहना ब्यक्त करना अपने-अपने तरीके होते हैं आपको भी अगर पसंद आया तो बताना मत भूलना।

https://www.nepalishayari.com/2020/03/dard-bhari-shayari-heart-touching.html
Dard bhari Shayari image


 Hindi breakup Shayari - शायरी संग्रह 


दरिया वफाओ का कभी रुकता नहीं
मोहब्बत में इन्सान कभी झुकता नहीं
खामूश है हम उनके ख़ुशी के खातिर
वो समझते है की दिल हमारा दुखता  नहीं 

dariya vaphao ka kabhee rukata nahin 
mohabbat mein insaan kabhee jhukata nahin 
khaamoosh hai ham unake khushee ke khaatir 
vo samajhate hai kee dil hamaara dukhata  nahin 

प्यार में वो हमको बेपनाह कर गए
फिर ज़िन्दगी में वो हमको तनहा कर गए
चाहत थी उनके प्यार में फना होने की
मगर वो लौट के आने को कर गए
pyaar mein vo hamako bepanaah kar gae 
phir zindagee mein vo hamako tanaha kar gae 
chaahat thee unake pyaar mein phana hone kee 
magar vo laut ke aane ko kar gae 

आंसू को पलकों तक लाया मत करो
दिल की बात किसी को बताया मत करो
लोग मुट्ठी में नमक लिए फिरते है
अपनी जख्म उन्हें दिखाया मत करो
aansoo ko palakon tak laaya mat karo 
dil kee baat kisee ko bataaya mat karo 
log mutthee mein namak lie phirate hai 
apanee jakhm unhen dikhaaya mat karo

डालीने डाली पर नज़र डालीं
ईसने उसपे डाली!!!
उसने ईसपे डाली।
मैंने जिस पर नज़र डाली
उसके बाप ने उसकी शादी कहीं
और कर डाली
इसी बात पर ठोकों ताली
daaleene daalee par nazar daaleen
eesane usape daalee!!!
usane eesape daalee.
mainne jis par nazar daalee
usake baap ne usakee shaadee kaheen
aur kar daalee 
isee baat par thokon taalee

लड़कियों से प्यार न करना क्योंकि,
दिखती हैं हीर की तरह,
लगती हैं खीर की तरह,
दिल में चुभती हैं तीर की तरह,
और छोड़ जाती हैं फकीर की तरह।
ladakiyon se pyaar na karana kyonki,
dikhatee hain heer kee tarah,
lagatee hain kheer kee tarah,
dil mein chubhatee hain teer kee tarah,
aur chhod jaatee hain phakeer kee tarah.


Breakup Shayari


आँखों से आसुओं की विदाई कर दो,
दिल से ग़मों की जुदाई कर दो,
गर फिर भी दिल न लगे कही,
तो मेरे घर की पुताई कर दो।
aankhon se aasuon kee vidaee kar do,
dil se gamon kee judaee kar do,
gar phir bhee dil na lage kahee,
to mere ghar kee putaee kar do.

दिल में तमन्नाओं को दवाना सीख लिया,
गम को आंखों में छिपाना सीख लिया,
मेरे चेहरे से कहीं कोई बात ज़ाहिर ना हो,
दवा के होंठों को हमने मुस्कुराना सीख लिया
dil mein tamannaon ko davaana seekh liya,
gam ko aankhon mein chhipaana seekh liya,
mere chehare se kaheen koee baat zaahir na ho,
dava ke honthon ko hamane muskuraana seekh liya

ज़िन्दगी बहुत कुछ सिखाती है,
हंसाती है तो कभी रुलाती है,
जो हर हाल में खुश रहते हैं,
ज़िन्दगी उनके आगे सिर झुकती है।
zindagee bahut kuchh sikhaatee hai,
hansaatee hai to kabhee rulaatee hai,
jo har haal mein khush rahate hain,
zindagee unake aage sir jhukatee hai.

छू ले आसमान ज़मीन की तलाश ना कर,
जी ले ज़िंदगी खुशी की तलाश ना कर,
तकदीर बदल जाएगी खुद ही मेरे दोस्त,
मुस्कुराना सीख ले वजह की तलाश ना कर.
chhoo le aasamaan zameen kee talaash na kar,
jee le zindagee khushee kee talaash na kar,
takadeer badal jaegee khud hee mere dost,
muskuraana seekh le vajah kee talaash na kar.

ज़िन्दगी बहुत कुछ सिखाती है,
हंसाती है तो कभी रुलाती है,
जो हर हाल में खुश रहते हैं,
ज़िन्दगी उनके आगे सिर झुकती है।
zindagee bahut kuchh sikhaatee hai,
hansaatee hai to kabhee rulaatee hai,
jo har haal mein khush rahate hain,
zindagee unake aage sir jhukatee hai.

New shayari in Hindi

छू ले आसमान ज़मीन की तलाश ना कर,
जी ले ज़िंदगी खुशी की तलाश ना कर,
तकदीर बदल जाएगी खुद ही मेरे दोस्त,
मुस्कुराना सीख ले वजह की तलाश ना कर.
chhoo le aasamaan zameen kee talaash na kar,
jee le zindagee khushee kee talaash na kar,
takadeer badal jaegee khud hee mere dost,
muskuraana seekh le vajah kee talaash na kar.

प्यार में किसी को खोना भी ज़िन्दगी है,
ज़िन्दगी में ग़मों का होना भी ज़िन्दगी है,
यु तो रहती हैं होठो पर मुस्कुराहट,
पर चुपके से किसी के लिए रोना भी ज़िन्दगी है…
pyaar mein kisee ko khona bhee zindagee hai,
zindagee mein gamon ka hona bhee zindagee hai,
yu to rahatee hain hotho par muskuraahat,
par chupake se kisee ke lie rona bhee zindagee hai…

हर शाम से तेरा इजहार किया करते है,
हर ख्वाब मे तेरा दिदार किया करते है,
दिवाने ही तो है हम तेरे,
जो हर वक्त तेरे मिलने का इंतजार किया करते है…
har shaam se tera ijahaar kiya karate hai,
har khvaab me tera didaar kiya karate hai,
divaane hee to hai ham tere,
jo har vakt tere milane ka intajaar kiya karate hai…

वो ज़िंदगी ही क्या जिसमे मोहब्बत नही,
वो मोहबत ही क्या जिसमे यादें नही,
वो यादें क्या जिसमे तुम नही,
और वो तुम ही क्या जिसके साथ हम नही!!!
vo zindagee hee kya jisame mohabbat nahee,
vo mohabat hee kya jisame yaaden nahee,
vo yaaden kya jisame tum nahee,
aur vo tum hee kya jisake saath ham nahee!!!

में तो चिराग हू तेरे आशियाने का
कभी ना कभी तो बुझ जाऊंगा …
आज शिकायत है तुझे मेरे उजाले से
कल अँधेरे में बहुत याद आऊंगा …
mein to chiraag hoo tere aashiyaane ka
kabhee na kabhee to bujh jaoonga …
aaj shikaayat hai tujhe mere ujaale se
kal andhere mein bahut yaad aaoonga …

खुशबु तेरी मूज़े महका जाती है
तेरी हर बात मूज़े बहका जाती है
सांस को बहुत देर लगती है आने में
हर सांस से पहले तेरी याद आ जाती है !!!
khushabu teree mooze mahaka jaatee hai
teree har baat mooze bahaka jaatee hai
saans ko bahut der lagatee hai aane mein
har saans se pahale teree yaad aa jaatee hai !!!

आपकी आँखें उची हुई तो दुआ बन गई
नीची हुई तो हया बन गई
जो झुक कर उठी तो खता बन गई
और उठ कर झुकी तो अदा बन गई…
aapakee aankhen uchee huee to dua ban gaee
neechee huee to haya ban gaee
jo jhuk kar uthee to khata ban gaee
aur uth kar jhukee to ada ban gaee…

इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है,
खामोशियो की आदत हो गयी है,
न सीकवा रहा न शिकायत किसी से,
अगर है तो एक मोहब्बत,
जो इन तन्हाइयों से हो गई है..!
intazaar kee aarazoo ab kho gayee hai,
khaamoshiyo kee aadat ho gayee hai,
na seekava raha na shikaayat kisee se,
agar hai to ek mohabbat,
jo in tanhaiyon se ho gaee hai..!

Friendship Shayari


https://www.nepalishayari.com/2020/03/dard-bhari-shayari-heart-touching.html
New Shayari photo

एक सच्चा दिल सब के पास होता हैं !
फिर क्यों नहीं सब पे विश्वास होता हैं !!
इंसान चाहे कितनो भी आम हो….!
वो किसी न किसी के लिए जरुर खास होता हैं !!
ek sachcha dil sab ke paas hota hain !
phir kyon nahin sab pe vishvaas hota hain !!
insaan chaahe kitano bhee aam ho….!
vo kisee na kisee ke lie jarur khaas hota hain !!

सुना है प्यार मे उड़ जाती है नींद,
सुना है प्यार मे उड़ जाती है नींद,
काश कोई हमें भी प्यार करे,
क्योकि हमें बहुत आती है नींद.
suna hai pyaar me ud jaatee hai neend,
suna hai pyaar me ud jaatee hai neend,
kaash koee hamen bhee pyaar kare,
kyoki hamen bahut aatee hai neend.

आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी
साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी
पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,
जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी.
aaeena dekhoge to meree yaad aaegee
saath guzaree vo mulaakaat yaad aaegee
pal bhar ka lie vaqt thahar jaega,
jab aapako meree koee baat yaad aaegee.

पलकों को कभी हमने भिगोए ही नहीं,
वो सोचते हैं की हम कभी रोये ही नहीं,
वो पूछते हैं कि ख्वाबो में किसे देखते हो?
और हम हैं की उनकी यादो में सोए ही नहीं!
palakon ko kabhee hamane bhigoe hee nahin,
vo sochate hain kee ham kabhee roye hee nahin,
vo poochhate hain ki khvaabo mein kise dekhate ho?
aur ham hain kee unakee yaado mein soe hee nahin!

सूरज आग उगलता है
सहना धरती को पड़ता है
मोह्हबत निगाहे कराती है
सहेना दिल को पड़ता है…
sooraj aag ugalata hai
sahana dharatee ko padata hai
mohhabat nigaahe karaatee hai
sahena dil ko padata hai…

साथ अगर दोगे मुस्कुरायेंगे जरूर,
प्यार अगर दिल से करोगे तो निभाएंगे जरूर ||
राह में कितने भी कांटे क्यों ना हो,
आवाज अगर दिल से दोगे तो आएंगे जरूर ||
saath agar doge muskuraayenge jaroor,
pyaar agar dil se karoge to nibhaenge jaroor ||
raah mein kitane bhee kaante kyon na ho,
aavaaj agar dil se doge to aaenge jaroor ||

“तुम्हारा दुःख हम सह नहीं सकते;
भरी महफ़िल में कुछ कह नहीं सकते;
हमारे गिरते हुए आँसुओं को पढ़ कर देखो;
वो भी कहते हैं कि हम आपके बिन रह नहीं सकते।
“tumhaara duhkh ham sah nahin sakate;
bharee mahafil mein kuchh kah nahin sakate;
hamaare girate hue aansuon ko padh kar dekho;
vo bhee kahate hain ki ham aapake bin rah nahin sakate.


Sad  Hindi Shayari


मेरी मोहब्बत है वो कोई मज़बूरी तो नही,
वो मुझे चाहे या मिल जाये, जरूरी तो नही,
ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसों में वो,
सामने हो मेरी आँखों के जरूरी तो नही!
meree mohabbat hai vo koee mazabooree to nahee,
vo mujhe chaahe ya mil jaaye, jarooree to nahee,
ye kuchh kam hai ki basa hai meree saanson mein vo,
saamane ho meree aankhon ke jarooree to nahee!

हम मौत को भी जीना सिखा देंगे,
बुझी हुई सम्मा को भी जला देंगे,
कसम तेरे प्यार की है,
हम जब जायंगे इस दुनिया से,
हम जाते हुए तुझे रुला देंगे।
ham maut ko bhee jeena sikha denge,
bujhee huee samma ko bhee jala denge,
kasam tere pyaar kee hai,
ham jab jaayange is duniya se,
ham jaate hue tujhe rula denge.

मोहब्बत किसी ऐसे की तलाश नही
करती जिसके साथ रहा जाये,
मोहब्बत तो ऐसे सख्स की तलाश
करती है जिसके बगैर रहा न जाये।
mohabbat kisee aise kee talaash nahee
karatee jisake saath raha jaaye,
mohabbat to aise sakhs kee talaash
karatee hai jisake bagair raha na jaaye.

जिंदगी में कभी बिछड़ना पड़े
तो मेरी सांसे भी ले जाना,
क्योंकि तुम्हारे बिना ये
मेरे किसी काम की नही।
jindagee mein kabhee bichhadana pade
to meree saanse bhee le jaana,
kyonki tumhaare bina ye
mere kisee kaam kee nahee

मेरी मोहब्बत है वो कोई मज़बूरी तो नही,
वो मुझे चाहे या मिल जाये, जरूरी तो नही,
ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसों में वो,
सामने हो मेरी आँखों के जरूरी तो नही
meree mohabbat hai vo koee mazabooree to nahee, 
vo mujhe chaahe ya mil jaaye, jarooree to nahee, 
ye kuchh kam hai ki basa hai meree saanson mein vo, 
saamane ho meree aankhon ke jarooree to nahee

दोस्ती दर्द नहीं खुशियों की सौगात है,
किसी अपने का ज़िंदगी भर का साथ है,
ये तो दिलों का वो खूबसूरत एहसास है,
जिसके दम से रौशन ये सारी कायनात है
और जो तुम्हारे काबिल है
वो तुम्हे कभी रोने ही नही देगा।
dostee dard nahin khushiyon kee saugaat hai, 
kisee apane ka zindagee bhar ka saath hai, 
ye to dilon ka vo khoobasoorat ehasaas hai, 
jisake dam se raushan ye saaree kaayanaat hai
aur jo tumhaare kaabil hai
vo tumhe kabhee rone hee nahee dega.

इत्तेफ़ाक़ से ही सही मगर मुलाकात हो गयी,
ढूंढ रहे थे हम जिन्हें उन से बात हो गयी,
देखते ही उन को जाने कहाँ खो गए हम,
वहीं से हमारे प्यार की शुरुआत हो गयी
ittefaaq se hee sahee magar mulaakaat ho gayee, 
dhoondh rahe the ham jinhen un se baat ho gayee, 
dekhate hee un ko jaane kahaan kho gae ham, 
vaheen se hamaare pyaar kee shuruaat ho gayee

न समझ मैं भूल गया हूँ तुझे,
तेरी खुशबू मेरे सांसो में आज भी हैं ।
मजबूरियों ने निभाने न दी मोहब्बत,
सच्चाई मेरी वफाओ में आज भी हैं
na samajh main bhool gaya hoon tujhe, 
teree khushaboo mere saanso mein aaj bhee hain . 
majabooriyon ne nibhaane na dee mohabbat, 
sachchaee meree vaphao mein aaj bhee hain

खुशी में भी आँखें आँसू बहाती रही,
ज़रा सी बात देर तक रूलाती रही,
कोई खो के मिल गया तो कोई मिल के खो गया,
ज़िंदगी हम को बस ऐसे ही आज़माती रही
khushee mein bhee aankhen aansoo bahaatee rahee, 
zara see baat der tak roolaatee rahee, 
koee kho ke mil gaya to koee mil ke kho gaya, 
zindagee ham ko bas aise hee aazamaatee rahee

बन कर अजनबी मिले थे ज़िंदगी के सफ़र में,
इन यादों के लम्हों को मिटायेंगे नहीं,
अगर याद रखना फितरत है आपकी,
तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं
ban kar ajanabee mile the zindagee ke safar mein,
in yaadon ke lamhon ko mitaayenge nahin,
agar yaad rakhana phitarat hai aapakee,
to vaada hai ham bhee aapako bhulaayenge nahin

उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया,
इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया.
क्या हुआ हम हुए जो उदास,
उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया
unhonne hamen aajamaakar dekh liya,
ik dhokha hamane bhee kha kar dekh liya.
kya hua ham hue jo udaas,
unhonne to apana dil bahala ke dekh liya

यह आरजू नहीं कि किसी को भुलाएं हम;
न तमन्ना है कि किसी को रुलाएं हम;
जिसको जितना याद करते हैं;
उसे भी उतना याद आयें हम
yah aarajoo nahin ki kisee ko bhulaen ham;
na tamanna hai ki kisee ko rulaen ham;
jisako jitana yaad karate hain;
use bhee utana yaad aayen ham

वो हर बार अगर रूप बदल कर न आया होता,
धोका मैने न उस शख्स से यूँ खाया होता,
रहता अगर याद कर तुझे लौट के आती ही नहीं,
ज़िन्दगी फिर मैने तुझे यु न गवाया होता
vo har baar agar roop badal kar na aaya hota,
dhoka maine na us shakhs se yoon khaaya hota,
rahata agar yaad kar tujhe laut ke aatee hee nahin,
zindagee phir maine tujhe yu na gavaaya hota


Heart Touching Shayari


एक फूल का दर्द उसकी जुकि डाली समझते हे,
बाग की बात बाग का माली ही समझते हे,
ये किस तरह की रात बनाई हे दुनियावाले ने,
दिए का दिल जलता हे और लोग रोशनी समजते हे
ek phool ka dard usakee juki daalee samajhate he,
baag kee baat baag ka maalee hee samajhate he,
ye kis tarah kee raat banaee he duniyaavaale ne,
die ka dil jalata he aur log roshanee samajate he

जुबाँ से चुप तो निगाहों से बोलता क्यूँ है
मेरे वजूद को इतना फिर टटोलता क्यूँ है
मोहब्बत आप ही देती है एक नशा गहरा
खामोश हसरतों में तू इसे घोलता क्यूँ है
छू के जब से गये आप हैं इस दरिया को
ये पूरा पानी हवा से भी यूँ खौलता क्यूँ है
हमारे बीच में क्या है रहने भी दे इसको
दिल के राज़ ज़माने में तू खोलता क्यूँ है
अगर यक़ीन है तुम्हे मेरी मोहब्बत पर
प्यार को तराज़ू पर "मन" तोलता क्यूँ है
jubaan se chup to nigaahon se bolata kyoon hai
mere vajood ko itana phir tatolata kyoon hai
mohabbat aap hee detee hai ek nasha gahara
khaamosh hasaraton mein too ise gholata kyoon hai
chhoo ke jab se gaye aap hain is dariya ko
ye poora paanee hava se bhee yoon khaulata kyoon hai
hamaare beech mein kya hai rahane bhee de isako
dil ke raaz zamaane mein too kholata kyoon hai
agar yaqeen hai tumhe meree mohabbat par
pyaar ko taraazoo par "man" tolata kyoon hai

तुम्हारी हर एक बात बेवफाई की कहानी है
लेकिन तेरी हर साँस मेरी ज़िन्दगी की निशानी है
तुम आज तक नहीं समझ सके मेरा पयार
इसलिए मेरे आंसू भी तेरे लिए पानी है
tumhaaree har ek baat bevaphaee kee kahaanee hai 
lekin teree har saans meree zindagee kee nishaanee hai 
tum aaj tak nahin samajh sake mera payaar 
isalie mere aansoo bhee tere lie paanee hai

पलकों से गिरके आंसू रुक जाते तो अच्छा था
तुम हमे याद ना करते तो अच्छा था
टूटे दिल की फरयाद करे तो किससे करे
मेरा दिल भी बदल जाता तो अच्छा था
palakon se girake aansoo ruk jaate to achchha tha 
tum hame yaad na karate to achchha tha 
toote dil kee pharayaad kare to kisase kare 
mera dil bhee badal jaata to achchha tha

बरसो गुजर गाए रो कर नहीं देखा
आंखों में है नींद मगर सो के नहीं देखा
वो क्या जाने दर्द मोहब्बत का
जिसने कभी किसी का हो कर नहीं देखा 
baraso gujar gae ro kar nahin dekha 
aankhon mein hai neend magar so ke nahin dekha 
vo kya jaane dard mohabbat ka 
jisane kabhee kisee ka ho kar nahin dekha

कहने वालो का कुछ नहीं जाता
सहने वाले कमल करते है
कौन दुढ़े जवाब दर्दो का
लोग तो बस सवाल करते जाते है 
kahane vaalo ka kuchh nahin jaata 
sahane vaale kamal karate hai 
kaun dudhe javaab dardo ka 
log to bas savaal karate jaate hai

Post a comment

0 Comments